स्कार्पियो चोर गैंग का हुआ भंडाफोड़… हुए कई चौकानें वाले खुलासे…

Share

बोकारो.बोकारो पुलिस को बड़ी सफलता मिली। पुलिस ने एक आपराधिक नेटवर्क को नष्ट कर दिया जो लगातार इस जिले में Scorpio गाड़ी की चोरी को अंजाम दे रहा था। पुलिस ने तीन अपराधियों को तीन Scorpio के साथ गिरफ्तार कर लिया। इस गिरोह ने बोकारो से इस साल के 9 स्कार्पियो कार की चोरी की. बोकारो एसपी चंदन कुमार झा ने बताया कि जल्द चोरी किये गए 6 अन्य स्कॉर्पियो को भी बरामद कर लिया जाएगा. एसपी ने बताया कि पुलिस की दबिश के कारण गिरोह के सदस्य नेपाल में अपना ठिकाना बना लेते थे. गिरफ्तार दोनों अपराधी बिहार के बक्सर और यूपी के बलिया के रहने वाले हैं. गिरफ्तार अपराधियों का नाम किशन पांडे है जो बक्सर का रहने वाला है, जबकि दूसरे का नाम राजेश चौधरी है जो उत्तर प्रदेश के बलिया का रहने वाला है.

बोकारो एसपी चंदन कुमार झा ने कहा कि इस गिरोह के सदस्य स्थानीय लिंक के सहारे 9 कार चोरी की घटनाएं कर चुके है। इस गिरोह की जानकारी पर बिहार में पुलिस लगातार शिविर कर रही थी। गिरोह के चार अन्य सदस्यों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका था, लेकिन पुलिस के लिए स्कार्पियो गाड़ी पुनर्प्राप्त करना एक चुनौती थी। इसी को लेकर बिहार गई टीम ने बोकारो थर्मल थाना से चोरी किए दो स्कॉर्पियो को बिहार के बक्सर जिले के डुमरांव थाना इलाके से तथा बेरमो थाना क्षेत्र से चोरी किए गए एक स्कॉर्पियो को बिहार के भोजपुर जिले के बिहिया थाना इलाके से बरामद किया है. एसपी ने बताया कि गिरफ्तार दोनों अपराधी स्कॉर्पियो की खरीदारी और चोरी किये स्कॉर्पियो को रिसीव करने का काम करते थे. इन अपराधियों के द्वारा गाड़ियों का नंबर प्लेट बदलकर इसको अपराध करने और शराब की तस्करी करने में इस्तेमाल किया जाता था. एसपी ने बताया कि चोरी की घटना को बिना लोकल लिंग के सहयोग से अंजाम देना संभव नहीं है. लोकल लिंक का भी बोकारो में पता चल चुका है. जल्दी इन लोगों की भी गिरफ्तारी की जाएगी.  एसपी ने बताया कि जब बोकारो पुलिस की दबिश इस गिरोह पर बढ़ती थी, तो इस गिरोह के सदस्य नेपाल में जाकर शरण ले लेते थे. हालांकि नेपाल में गाड़ियों को बेचने का अभी तक कोई लिंक पता नहीं चल पाया है.

1 2 3 150
Facebook Comments Box